मुज़फ्फरनगर:मुजफ्फरनगर के नए युवा स्मार्ट एसएसपी अभिषेक यादव ने कार्यभार संभाला कहा जंगलराज नहीं कानून का राज चलेगा गुंडों की शामत रहेगी जारी................................................................................... मुजफ्फरनगर 2 जुलाई दैनिक सूरज केसरी समाचार पत्र की विशेष कवरेज के अनुसार आज मुजफ्फरनगर के नव आगंतुक युवा एवं स्मार्ट कुछ कर दिखाने का जज्बा लिए 2012 बैच के आईपीएस हरियाणा के मूल निवासी श्री अभिषेक यादव ने आज विधिवत रूप से जनपद मुजफ्फरनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पद का पदभार संभाल लिया है युवा आईपीएस अधिकारी श्री अभिषेक यादव जीआरपी रेलवे आगरा के पुलिस अधीक्षक पद से स्थानांतरित होकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर के पद पर आए हैं एवं मुजफ्फरनगर के निवर्तमान लोकप्रिय वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री सुधीर कुमार सिंह का स्थानांतरण वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गाजियाबाद के पद पर हो गया है उत्तर प्रदेश सरकार ने श्री सुधीर कुमार सिंह को प्रदेश का सर्वश्रेष्ठ जनपद देकर एक प्रकार से श्री सुधीर कुमार सिंह को उनकी मेहनत का पुरस्कार भी दिया है आज श्री सुधीर कुमार सिंह ने मुजफ्फरनगर जनपद का कार्यभार छोड़ दिया है संभवत है शाम को जनपद गाजियाबाद का कार्यभार ग्रहण करेंगे नव आगंतुक युवा आईपीएस अधिकारी श्री अभिषेक यादव उत्तर प्रदेश के बहुत ही परिश्रमी योग्य एवं अपराधियों के विरुद्ध अभियान चलाने में सुविख्यात हैं यही कारण है कि श्री अभिषेक यादव को मुजफ्फरनगर जनपद की कमान दी गई है कार्यभार ग्रहण करने के पश्चात श्री अभिषेक यादव का मुजफ्फरनगर जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों द्वारा एवं पत्रकारों द्वारा और जागरूक नागरिकों द्वारा स्वागत किया गया कार्यभार ग्रहण करने के पश्चात निवर्तमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री सुधीर कुमार सिंह एवं नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव के बीच अपराध नियंत्रण को लेकर जनपद की स्थिति को लेकर काफी देर तक बातचीत भी हुई एवं जनपद की भौगोलिक स्थिति और कानून-व्यवस्था से नव आगंतुक पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव रूबरू हुए जनपद के पुलिस अधिकारियों से परिचय के पश्चात आज दोपहर नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव ने पुलिस लाइंस के सभागार में एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया एवं मुजफ्फरनगर के पत्रकार बंधुओं का विस्तृत परिचय प्राप्त किया और अपना विस्तृत परिचय अपनी कार्यप्रणाली एवं अपनी प्राथमिकताओं से पत्रकार बंधुओं को अवगत कराया प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव ने कहा कि उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता मुजफ्फरनगर जनपद में अपराधों का खात्मा करते हुए भयमुक्त वातावरण स्थापित करना है एवं अपराधियों के विरुद्ध निरंतर अभियान जारी रहेंगे हर हालत में मुजफ्फरनगर जनपद में कानून का राज चलेगा जंगलराज को वह बर्दाश्त नहीं करते नए युवा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव ने कहा कि बदमाशों की जगह जेल होती है समाज के बीच बदमाशों का रहना उचित नहीं और जब अपराधियों के विरुद्ध निरंतर अभियान जारी रहेगा तो निश्चित रूप से नियमित रूप से अपराधियों की शामत आना तय है नई वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव ने कहा कि अपराधियों को गुंडों को अवांछित तत्वों को अराजक तत्वों को समाज विरोधी तत्वों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा और बदमाशों के विरुद्ध ऐसी कार्यवाही की जाएगी जिसका अंदाजा भी लगाना मुश्किल होगा अब समय आ गया है कि हम सब सभ्य समाज के लोग और नागरिक पुलिस एक होकर बदमाशों के विरुद्ध बिगुल बजा दे और ढूंढ ढूंढ कर बदमाशों को उनके अंजाम तक पहुंचाया जाए श्री अभिषेक यादव ने सीधे तौर पर चेतावनी भरे अंदाज में कहा कि वह जिस जनपद में भी रहे हैं उस जनपद के बदमाशों का क्या हुआ आप मालूम कर सकते हैं और मुजफ्फरनगर जनपद के बदमाशों की भी अपराधियों की भी गुंडों की भी अब शामत आना तय है मुजफ्फरनगर जनपद के जागरूक एवं सभ्य नागरिकों से अपील करते हुए श्री अभिषेक यादव ने कहा कि यदि कभी भी किसी भी समय उनके सामने कोई आपराधिक वारदात हो रही है या कोई किसी को तंग कर रहा है या कोई किसी को गुंडई दिखा रहा है क्या कोई किसी को दबंगई दिखा रहा है ऐसी हर वारदात हर घटना की सूचना संबंधित अधिकारी या मुझे फोन पर किसी भी समय दी जा सकती है सूचना देने वाले सम्मानित नागरिक का नाम एवं पहचान गोपनीय रखा जाएगा और हम लोग यानी पुलिस वाले हर पीड़ित व्यक्ति की सुरक्षा करने में सदैव तत्पर रहेंगे किसी को भी किसी गुंडे बदमाश यह दबंग से या बाहुबली से या मठाधीश से डरने की आवश्यकता नहीं है पुलिस सदैव पूरे जनपद की सुरक्षा में तत्पर है और रहेगी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव ने सीधे तौर पर कहा कि किसी की भी गुंडई बदमाशी नहीं चलने दी जाएगी और हर हालत में उत्तर प्रदेश सरकार के माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी महाराज के मंतव्य के अनुरूप अपराधियों के विरुद्ध सघन अभियान चलाया जाएंगे और पीड़ितों को न्याय दिया जाएगा हर हालत में मुजफ्फरनगर जनपद में कानून का राज कायम रहेगा भयमुक्त वातावरण स्थापित होगा किसी की भी गुंडई नहीं चलने चलेगी केवल कानून की चलेगी नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर युवा आईपीएस अधिकारी श्री अभिषेक यादव ने कहा कि वह और जनपद मुजफ्फरनगर पुलिस दिन-रात जन सुरक्षा जनसेवा पीड़ितों की सहायता करने में निरंतर उपलब्ध हैं सदैव तत्पर हैं वास्तविकता तो यह है कि आज नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव के मुजफ्फरनगर आगमन पर कई पुरानी यादें भी पत्रकारों को आ गई जैसे नवनीत यादव ने मुजफ्फरनगर में अपराधियों का सफाया करने के लिए बहुत ही बेहतरीन कार्य किया श्री आशुतोष पांडे एवं श्री बबलू कुमार एवं श्री दीपक कुमार और अब श्री सुधीर कुमार जैसे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों की भांति नव आगंतुक युवा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव से भी मुजफ्फरनगर जनपद के नागरिकों को बहुत सारी उम्मीदें हैं देखने से भी लगता है कि वास्तव में नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव युवा शक्ति है युवा आईपीएस अधिकारी हैं और कुछ कर दिखाने का जज्बा लेकर मुजफ्फरनगर में आए हैं वास्तव में हम सभी नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर श्री अभिषेक यादव का हार्दिक अभिनंदन करते हुए उन्हें पूर्ण सहयोग के लिए आश्वस्त करते हैं आज हुई प्रेसवार्ता में सभी पत्रकार बंधुओं ने निवर्तमान लोकप्रिय कप्तान मुजफ्फरनगर अब गाजियाबाद के कप्तान श्री सुधीर कुमार सिंह एवं मुजफ्फरनगर के युवा आईपीएस लोकप्रिय नगर पुलिस अधीक्षक श्री सतपाल अंतिल की सराहनीय एवं पारदर्शिता पूर्ण कार्य प्रणाली की मुक्त कंठ से सराहना की नए कप्तान साहब के साथ नगर पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर श्री सतपाल अंतिल भी प्रेस वार्ता में मौजूद रहे बधाई देता हूं नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव को जय हिंद जय भारत सैयद मुजम्मिल हुसैन मान्यता प्राप्त राज्य मुख्यालय पत्रकार कार्यकारी संपादक दैनिक सूरज केसरी समाचार पत्र लखनऊ एवं मुजफ्फरनगर *उल्लेखनीय है कि युवा एवं स्मार्ट आईपीएस अधिकारी श्री अभिषेक यादव देश भर के उनपर चुनींदा नोजवानों में से एक है जो हर जन हितेषी जन सुरक्षा का कार्य मिशन की तरह लेते हैं।उनकी जिंदगी चुनोतियाँ से भरी होती है।उन्होंने लिया।हर चैलेंज उन्हें आनंद देता है। 2012 बैच के आईपीएस उत्तर प्रदेश कैडर के है और वो अपनी जिंदगी की सबसे बड़ी चुनौती से दोचार होने जा रहे हैं।एकदम यंग इस अफसर को यूपी के मुश्किलों से भरे मुजफ्फरनगर जनपद का एसएसपी बनाया गया है।अब तक के उनके कामकाज ने प्रभावित किया है।बाहुबलियों के इलाके में उन्होंने खुद का एहसास कलात्मकता से कराया है।पूर्वांचल में उनके किस्से बन गए हैं।मुजफ्फरनगर की अलग दुश्वारिया है।यहां का पासआउट अफसर हमेशा-जलवाअफ़रोज़ रहता है।हालांकि पहले के कुछ अफसरों ने मुजफ्फरनगर को काफी सुधार दिया है मगर अब नई तरह की समस्याओं का उद्भव हुआ है।अभिषेक की शुरुवाती छवि ईमानदार और एनर्जीफुल अफसर की बन गई है।पिछले कुछ समय से मुजफ्फरनगर की जनता का टेस्ट किसी यंग अफसर को मांग रहा था।शासन ने उन्हें चुना है।उनके बैच 2012-13 के सभी आईपीएस पहले ही काफी लोकप्रिय है।मुजफ्फरनगर बतौर एएसपी उनके एक साथी का जलवा देख चुका है। उम्मीद है अपने दम से कायदे की पुलिसिंग से रूबरू कराएंगे।फिलहाल तो उनकी आमद की आहट से ही हलचल हो गई है।उनका स्वागत है।* निश्चित रूप से युवा आईपीएस अधिकारी श्री अभिषेक यादव नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर को मुजफ्फरनगर के जनता का एवं पूरी मीडिया का भरपूर सहयोग मिलेगा जय हिंद जय भारत सैयद मुजम्मिल हुसैन मान्यता प्राप्त राज्य मुख्यालय पत्रकार कार्यकारी संपादक दैनिक सूरज केसरी समाचार पत्र लखनऊ एवं मुजफ्फरनगर नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर स्मार्ट युवा आईपीएस श्री अभिषेक यादव का स्वागत है मुजफ्फरनगर में मुजफ्फरनगर का कार्यभार ग्रहण करते ही बिना रुके बिना थके नव आगंतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक यादव जनपद के भ्रमण पर निकल गए और जनपद के बारे में समझने का प्रयास शुरू कर दिया


Popular posts
मुत्यु लोक का सच:*आचार्य रजनीश* (१) जब मेरी मृत्यु होगी तो आप मेरे रिश्तेदारों से मिलने आएंगे और मुझे पता भी नहीं चलेगा, तो अभी आ जाओ ना मुझ से मिलने। (२) जब मेरी मृत्यु होगी, तो आप मेरे सारे गुनाह माफ कर देंगे, जिसका मुझे पता भी नहीं चलेगा, तो आज ही माफ कर दो ना। (३) जब मेरी मृत्यु होगी, तो आप मेरी कद्र करेंगे और मेरे बारे में अच्छी बातें कहेंगे, जिसे मैं नहीं सुन सकूँगा, तो अभी कहे दो ना। (४) जब मेरी मृत्यु होगी, तो आपको लगेगा कि इस इन्सान के साथ और वक़्त बिताया होता तो अच्छा होता, तो आज ही आओ ना। इसीलिए कहता हूं कि इन्तजार मत करो, इन्तजार करने में कभी कभी बहुत देर हो जाती है। इस लिये मिलते रहो, माफ कर दो, या माफी माँग लो। *मन "ख्वाईशों" मे अटका रहा* *और* *जिन्दगी हमें "जी "कर चली गई.*
Image
Schi baat:*खरी बात * संस्कारी औरत का शरीर केवल उसका पति ही देख सकता है। लेकिन कुछ कुल्टा व चरित्रहीन औरतें अपने शरीर की नुमाइश दुनियां के सामने करती फिरती हैं। समझदार को इशारा ही काफी है। इस पर भी नारीवादी पुरुष और नारी दोनों, कहते हैं, कि यह पहनने वाले की मर्जी है कि वो क्या पहने। बिल्कुल सही, अगर आप सहमत हैं, तो अपने घर की औरतों को, ऐसे ही पहनावा पहनने की सलाह दें। हम तो चुप ही रहेंगे।
Image
सोनिया ने केन्द्र सरकार से खज़ाना खोलने का किया आग्रह: *कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गाँधी का सन्देश* "मेरे प्यारे भाइयों और बहनों", पिछले 2 महीने से पूरा देश कोरोना महामारी की चुनौती और लॉकडाउन के चलते रोजी-रोटी-रोजगार के गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहा है। देश की आजादी के बाद पहली बार दर्द का वो मंजर सबने देखा कि लाखों मजदूर नंगे पांव, भूखे-प्यासे, बगैर दवाई और साधन के सैकडों-हजारों किलोमीटर पैदल चल कर घर वापस जाने को मजबूर हो गए। उनका दर्द, उनकी पीड़ा, उनकी सिसकी देश में हर दिल ने सुनी, पर शायद सरकार ने नहीं। करोड़ों रोजगार चले गए, लाखों धंधे चौपट हो गए, कारखानें बंद हो गए, किसान को फसल बेचने के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ीं। यह पीड़ा पूरे देश ने झेली, पर शायद सरकार को इसका अंदाजा ही नहीं हुआ। पहले दिन से ही, मेरे सभी कांग्रेस के सब साथियों ने, अर्थ-शास्त्रियों ने, समाज-शास्त्रियों ने और समाज के अग्रणी हर व्यक्ति ने बार-बार सरकार को यह कहा कि ये वक्त आगे बढ़ कर घाव पर मरहम लगाने का है, मजदूर हो या किसान, उद्योग हो या छोटा दुकानदार, सरकार द्वारा सबकी मदद करने का है। न जाने क्यों केंद्र सरकार यह बात समझने और लागू करने से लगातार इंकार कर रही है। इसलिए, कांग्रेस के साथियों ने फैसला लिया है कि भारत की आवाज बुलंद करने का यह सामाजिक अभियान चलाना है। हमारा केंद्र सरकार से फिर आग्रह है कि खज़ाने का ताला खोलिए और ज़रूरत मंदों को राहत दीजिये। हर परिवार को छः महीने के लिए 7,500 रू़ प्रतिमाह सीधे कैश भुगतान करें और उसमें से 10,000 रू़ फौरन दें। मज़दूरों को सुरक्षित और मुफ्त यात्रा का इंतजाम कर घर पहुंचाईये और उनके लिए रोजी रोटी का इंतजाम भी करें और राशन का इंतजाम भी करें। महात्मा गाँधी मनरेगा में 200 दिन का काम सुनिश्चित करें जिससें गांव में ही रोज़गार मिल सके। छोटे और लघु उद्योगों को लोन देने की बजाय आर्थिक मदद दीजिये, ताकि करोड़ों नौकरियां भी बचें और देश की तरक्की भी हो। आज इसी कड़ी में देशभर से कांग्रेस समर्थक, कांग्रेस नेता, कार्यकर्ता, पदाधिकारी सोशल मीडिया के माघ्यम से एक बार फिर सरकार के सामने यह मांगें दोहरा रहे है । मेरा आपसे निवेदन है कि आप भी इस मुहिम में जुड़िए, अपनी परेशानी साझा कीजिए ताकि हम आपकी आवाज को और बुलंद कर सकें। संकट की इस घड़ी में हम सब हर देशवासी के साथ हैं और मिलकर इन मुश्किल हालातों पर अवश्य जीत हासिल करेंगे। जय हिंद! सोनिया गांधी
Image
मुबारक हो: आईपीएस नूरूल हसन जी अपनी सरिकेहयात डा0 इरम सैफी जी कें साथ अल्लाह रब्बुल इज्ज़त जोड़ी सलामत रक्खें आमीन...
Image
स्पोर्ट्समैन जाफ़र के सम्मान में क्रिकेट मैच: *जाफ़र मेहदी वरिष्ठ केन्द्र प्रभारी कैसरबाग डिपो कल 30 नवम्बर 2020 सोमवार को सेवानिवृत्त हो जाएगे उनके सम्मान में क्रिकेट मैच परिवहन निगम ने आयोजित किया* लखनऊ, उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के स्पोर्ट्समैन जाफ़र मेहंदी जो 30 नवम्बर 2020 को सेवानिवृत्त हो जाएंगे को "मुख्य महाप्रबंधक प्रशासन" सन्तोष कुमार दूबे "वरि०पी०सी०एस०" द्वारा उनके सम्मान में क्रिकेट मैच आयोजित कर उनका सम्मान किया जायेगा , जिसमें एहम किरदार पी०आर०बेलवारिया "मुख्य महाप्रबंधक "संचालन" व पल्लव बोस क्षेत्रीय प्रबन्धक-लखनऊ एवं प्रशांत दीक्षित "प्रभारी स०क्षे०प्रबन्धक" हैं जो * अवध बस स्टेशन कमता लखनऊ* के पद पर तैनात हैं , इस समय *कैसरबाग डिपो* के भी "प्रभारी स०क्षे०प्र०" हैं। कैसरबाग डिपो के वरिष्ठ केन्द्र प्रभारी जाफ़र मेहदी साहब दिनाँक,30 नवम्बर 2020 को कल सेवानिवृत्त हो जायेगे। जाफ़र मेहदी साहब की भर्ती स्पोर्ट्स कोटा के तहत 1987 में परिवहन निगम में हुई थी। जो पछले तीन सालो से दो धारी तलवार के चपेट कि मार झेल रहे थे अब आज़ादी उनके हाथ लगी मेंहदी साहब नायाब ही नहीं तारीफे काबिल हैं उनकी जितनी भी बड़ाई की जाय कम हैl कृत्य:नायाब टाइम्स
Image