Upsrtc का खुला पत्र: प्रिय अधिकारी गण और मीडिया मित्रों गुड आफ्टरनून ------------ प्रयाग राज में सिविल लाइंस बस स्टेशन और यूपीएसआरटीसी के जीरो रोड वर्क शॉप पर आज की विजिट के महत्वपूर्ण हाईलाइट्स इस प्रकार हैं: 1- यह विजिट यूपीएसआरटीसी प्रयाग राज के आरएम, प्रयागराज सिटी बस सेवा के आरएम, एआरएम और सिविल लाइन्स प्रयाग राज के मैनेजर के साथ की गई। 2- प्रबंध निदेशक (एमडी) ने कैम्पस का निरीक्षण किया और "इंटेलिजेंट ट्रांसपोर्ट मैनेजमेंट सिस्टम (आईटीएमएस)" सिस्टम के सेटअप और कार्य प्रगति की जांच की। एमडी ने रेडमली कुछ बसों का निरीक्षण किया और यात्रियों से उनकी प्रतिक्रिया के लिए बातचीत की। एमडी ने इस परिक्षेत्र के आरएम, एसएम और सभी एआरएम की विस्तृत बैठक ली। 2- प्रयाग राज परिक्षेत्र में लगभग 599 बसें (522 निगम की बसें और 77 अनुबंधित बसें) हैं। आईटीएमएस प्रणाली के तहत, इस परिक्षेत्र में सबसे अच्छा यह है कि 99.9 % टिकट हाथ से चलने वाली "इलेक्ट्रॉनिक टिकट ईश्यू मशीन (ईटीआईएम)" के द्वारा जारी किए जाते हैं। 3- लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुल 599 बसों में से, केवल 50 प्रतिशत वाहनों में ही वेहकिल ट्रैकिंग सिस्टम (वीटीएस) काम कर रहा है और बाकी या तो नॉन- फंग्शनल हैं या मरम्मत के लायक है। एमडी ने इसे काफी गंभीरता से लिया और इसे बहुत ही आपत्तिजनक पाया। गति नियंत्रण उपकरण (एससीडी) लगाए गए हैं और ठीक तरह से काम कर रहा। 4- जब एमडी ने बस का निरीक्षण करते हुए चालक, कंडक्टर और यात्रियों से बातचीत की, तो एमडी के संज्ञान में आया है कि 50 प्रतिशत से अधिक ड्राइवर अपनी "वर्दी" नहीं पहनते हैं। इस बस से "फर्स्ट एड मेडिकल किट" गायब थी। जब कंडक्टर से पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि कुछ दिनों से इसकी मांग बढ़ गई थी इसलिए इस चीजों का इस्तेमाल किया जा चुका है। 5- बस स्टेशन परिसर में शौचालय (पुरुष और महिला के लिए अलग) मौजूद थे और अच्छी तरह से मेंटेन रखे गये हैं। लेकिन इस बस स्टैंड को एक और टॉयलेट ब्लॉक की जरूरत है क्योंकि यात्रियों की संख्या बढ़ रही है। "पब्लिक एड्रेस सिस्टम" ठीक तरह से काम कर रहा था और यह स्पष्ट और श्रव्य रहा। परंतु " सार्वजनिक संबोधन प्रणाली" (पीआईएस) एलईडी डिस्प्ले बोर्ड चालू नहीं था। यह आपत्तिजनक है। 6- एमडी ने जब ड्राइवरों के "स्वास्थ्य की जांच की स्थिति" के बारे में पूछा, तो आरएम ने बताया कि कुंभ मेले से आठ महीने पहले सभी ड्राइवरों का 100 प्रतिशत स्वास्थ्य परीक्षण किया गया था और प्रत्येक के सारे रिकॉर्ड अच्छी तरह से मेंटेन हैं। 7- यह अच्छा है कि एक दिन (लंबी दूरी / राष्ट्रीय राजमार्ग / एक्सप्रेसवे) में 300 किमी से अधिक की यात्रा करने वाली इस परिक्षेत्र की 80 बसों में दो ड्राइवर तैनात हैं। एमडी ने एआरएम और स्टेशन प्रबंधक से व्यक्तिगत रूप से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि एक दिन में 300 किमी से ज्यादा दूरी तय करने वाली बसों में नियुक्त "दोनों ड्राइवर" मौजूद रहकर ड्यूटी करते रहें। 8- एमडी ने प्रत्येक बस डिपो की "आय और व्यय की स्थिति" की अलग से समीक्षा की। जिसकी पाया गया कि राज्य मासिक रैंकिंग में इस परिक्षेत्र के दो स्टेशन प्रतापगढ़ और जीरो रोड डिपो 7वें और 8वें स्थान पर हैं। अन्य स्टेशनों जैसे लालगंज और सिविल लाइंस को अपनी रैंकिंग में सुधार करने की आवश्यकता है क्योंकि वे 80वें रैंकिंग से ऊपर हैं। 9- एमडी ने जीरो रोड कार्यशाला का दौरा किया और कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने "सड़क सुरक्षा कार्यशाला कक्ष" का दौरा किया और चालकों के साथ बातचीत की। यह उनकी दूसरी जागरूकता कार्यशाला है और पिछली नवंबर 2018 में कुंभ मेले से पहले आयोजित की गई थी। वे गदगद थे कि पिछले सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यशाला के कारण, पूरा कुंभ मेला परिवहन "हादसा मुक्त" रहा। 10- फील्ड विजिट, साइट निरीक्षण और अधिकारियों के साथ बैठक के बाद, एमडी ने सेवाओं में सुधार और बेहतरी के लिए निम्नलिखित निर्णय लिया / कार्रवाई की: ए- यह सुनिश्चित हो कि ड्यूटी समय के दौरान सभी चालक "वर्दी" पहनें, निगम में सभी संविदा ड्राइवरों के यूनिफॉर्म न पहनने के प्रत्येक इंस्टेंस पर "संबंधित ड्राइवर के वेतन से 100 रुपये की कटौती" का प्रस्तावित की जाए। निगम के ड्राइवर्स की "विभागीय जांच " सेटअप की जाए। यदि प्रति माह की फ्रीक्वेंसी तीन से अधिक है तो उन्हें निलंबित कर दिया जाएगा। निगम जल्द ही आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करेगा। बी- इसी तरह यदि कंडक्टर यात्रा के दौरान अपने साथ "फर्स्ट एड मेडिकल किट" नहीं रखता है तो उसके वेतन से सौ रुपये कटौती का प्रस्ताव और "डिपार्टमेंट इंक्वायरी" भी सेट अप की जा सकती है। जिस पर निगम जल्द ही आवश्यक निर्देश जारी करेगा। सी- जल्द ही सभी बसों में सभी ड्राइवरों और कंडक्टरों के लिए चेतावनी और जनता की जानकारी के लिए "क्या करें" और " क्या न करें " डिस्प्ले किए जाएंगे। डी- वेहकिल ट्रैकिंग डिवाइसेज और सार्वजनिक सूचना डिस्प्ले पैनल के खराब प्रदर्शन के लिए आईटीएमएस का कार्य करने वाली निजी फर्म के भुगतान से धनराशि की कटौती के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया जाना है। ई- यदि कोई लंबी दूरी (राष्ट्रीय राजमार्ग / एक्सप्रेस-वे मार्गों / रात मार्गों) की बसों को बिना दो चालकों के, गति नियंत्रण उपकरण (एससीडी) और वेहकिल ट्रैकिंग सिस्टम (वीटीएस) के भेजने पर संबंधित बस स्टेशन के प्रभारी अधिकारी को निलंबित कर दिया जाएगा। सभी एआरएम, एसएम, बस डिपो के इंचार्ज के द्वारा इसे दैनिक रूप से सुनिश्चित किया जाए ताकि दुघर्टनाओं के जाखिम को कम किया जा सके। ----------- धन्यवाद राज शेखर एमडी यूपीएसआरटी


Popular posts
मुत्यु लोक का सच:*आचार्य रजनीश* (१) जब मेरी मृत्यु होगी तो आप मेरे रिश्तेदारों से मिलने आएंगे और मुझे पता भी नहीं चलेगा, तो अभी आ जाओ ना मुझ से मिलने। (२) जब मेरी मृत्यु होगी, तो आप मेरे सारे गुनाह माफ कर देंगे, जिसका मुझे पता भी नहीं चलेगा, तो आज ही माफ कर दो ना। (३) जब मेरी मृत्यु होगी, तो आप मेरी कद्र करेंगे और मेरे बारे में अच्छी बातें कहेंगे, जिसे मैं नहीं सुन सकूँगा, तो अभी कहे दो ना। (४) जब मेरी मृत्यु होगी, तो आपको लगेगा कि इस इन्सान के साथ और वक़्त बिताया होता तो अच्छा होता, तो आज ही आओ ना। इसीलिए कहता हूं कि इन्तजार मत करो, इन्तजार करने में कभी कभी बहुत देर हो जाती है। इस लिये मिलते रहो, माफ कर दो, या माफी माँग लो। *मन "ख्वाईशों" मे अटका रहा* *और* *जिन्दगी हमें "जी "कर चली गई.*
Image
Schi baat:*खरी बात * संस्कारी औरत का शरीर केवल उसका पति ही देख सकता है। लेकिन कुछ कुल्टा व चरित्रहीन औरतें अपने शरीर की नुमाइश दुनियां के सामने करती फिरती हैं। समझदार को इशारा ही काफी है। इस पर भी नारीवादी पुरुष और नारी दोनों, कहते हैं, कि यह पहनने वाले की मर्जी है कि वो क्या पहने। बिल्कुल सही, अगर आप सहमत हैं, तो अपने घर की औरतों को, ऐसे ही पहनावा पहनने की सलाह दें। हम तो चुप ही रहेंगे।
Image
सोनिया ने केन्द्र सरकार से खज़ाना खोलने का किया आग्रह: *कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गाँधी का सन्देश* "मेरे प्यारे भाइयों और बहनों", पिछले 2 महीने से पूरा देश कोरोना महामारी की चुनौती और लॉकडाउन के चलते रोजी-रोटी-रोजगार के गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहा है। देश की आजादी के बाद पहली बार दर्द का वो मंजर सबने देखा कि लाखों मजदूर नंगे पांव, भूखे-प्यासे, बगैर दवाई और साधन के सैकडों-हजारों किलोमीटर पैदल चल कर घर वापस जाने को मजबूर हो गए। उनका दर्द, उनकी पीड़ा, उनकी सिसकी देश में हर दिल ने सुनी, पर शायद सरकार ने नहीं। करोड़ों रोजगार चले गए, लाखों धंधे चौपट हो गए, कारखानें बंद हो गए, किसान को फसल बेचने के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ीं। यह पीड़ा पूरे देश ने झेली, पर शायद सरकार को इसका अंदाजा ही नहीं हुआ। पहले दिन से ही, मेरे सभी कांग्रेस के सब साथियों ने, अर्थ-शास्त्रियों ने, समाज-शास्त्रियों ने और समाज के अग्रणी हर व्यक्ति ने बार-बार सरकार को यह कहा कि ये वक्त आगे बढ़ कर घाव पर मरहम लगाने का है, मजदूर हो या किसान, उद्योग हो या छोटा दुकानदार, सरकार द्वारा सबकी मदद करने का है। न जाने क्यों केंद्र सरकार यह बात समझने और लागू करने से लगातार इंकार कर रही है। इसलिए, कांग्रेस के साथियों ने फैसला लिया है कि भारत की आवाज बुलंद करने का यह सामाजिक अभियान चलाना है। हमारा केंद्र सरकार से फिर आग्रह है कि खज़ाने का ताला खोलिए और ज़रूरत मंदों को राहत दीजिये। हर परिवार को छः महीने के लिए 7,500 रू़ प्रतिमाह सीधे कैश भुगतान करें और उसमें से 10,000 रू़ फौरन दें। मज़दूरों को सुरक्षित और मुफ्त यात्रा का इंतजाम कर घर पहुंचाईये और उनके लिए रोजी रोटी का इंतजाम भी करें और राशन का इंतजाम भी करें। महात्मा गाँधी मनरेगा में 200 दिन का काम सुनिश्चित करें जिससें गांव में ही रोज़गार मिल सके। छोटे और लघु उद्योगों को लोन देने की बजाय आर्थिक मदद दीजिये, ताकि करोड़ों नौकरियां भी बचें और देश की तरक्की भी हो। आज इसी कड़ी में देशभर से कांग्रेस समर्थक, कांग्रेस नेता, कार्यकर्ता, पदाधिकारी सोशल मीडिया के माघ्यम से एक बार फिर सरकार के सामने यह मांगें दोहरा रहे है । मेरा आपसे निवेदन है कि आप भी इस मुहिम में जुड़िए, अपनी परेशानी साझा कीजिए ताकि हम आपकी आवाज को और बुलंद कर सकें। संकट की इस घड़ी में हम सब हर देशवासी के साथ हैं और मिलकर इन मुश्किल हालातों पर अवश्य जीत हासिल करेंगे। जय हिंद! सोनिया गांधी
Image
मुबारक हो: आईपीएस नूरूल हसन जी अपनी सरिकेहयात डा0 इरम सैफी जी कें साथ अल्लाह रब्बुल इज्ज़त जोड़ी सलामत रक्खें आमीन...
Image
स्पोर्ट्समैन जाफ़र के सम्मान में क्रिकेट मैच: *जाफ़र मेहदी वरिष्ठ केन्द्र प्रभारी कैसरबाग डिपो कल 30 नवम्बर 2020 सोमवार को सेवानिवृत्त हो जाएगे उनके सम्मान में क्रिकेट मैच परिवहन निगम ने आयोजित किया* लखनऊ, उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के स्पोर्ट्समैन जाफ़र मेहंदी जो 30 नवम्बर 2020 को सेवानिवृत्त हो जाएंगे को "मुख्य महाप्रबंधक प्रशासन" सन्तोष कुमार दूबे "वरि०पी०सी०एस०" द्वारा उनके सम्मान में क्रिकेट मैच आयोजित कर उनका सम्मान किया जायेगा , जिसमें एहम किरदार पी०आर०बेलवारिया "मुख्य महाप्रबंधक "संचालन" व पल्लव बोस क्षेत्रीय प्रबन्धक-लखनऊ एवं प्रशांत दीक्षित "प्रभारी स०क्षे०प्रबन्धक" हैं जो * अवध बस स्टेशन कमता लखनऊ* के पद पर तैनात हैं , इस समय *कैसरबाग डिपो* के भी "प्रभारी स०क्षे०प्र०" हैं। कैसरबाग डिपो के वरिष्ठ केन्द्र प्रभारी जाफ़र मेहदी साहब दिनाँक,30 नवम्बर 2020 को कल सेवानिवृत्त हो जायेगे। जाफ़र मेहदी साहब की भर्ती स्पोर्ट्स कोटा के तहत 1987 में परिवहन निगम में हुई थी। जो पछले तीन सालो से दो धारी तलवार के चपेट कि मार झेल रहे थे अब आज़ादी उनके हाथ लगी मेंहदी साहब नायाब ही नहीं तारीफे काबिल हैं उनकी जितनी भी बड़ाई की जाय कम हैl कृत्य:नायाब टाइम्स
Image