अमर जीत दास:*अमर जीत दास सुप्रदेखाक़* लखनऊ,सोनभद्र राबट्स गंज के अमर जीत दास,3,अगस्त,2019 को वे "गोवरो जयसवाल" को लखनऊ में हनुमान सेतु पर बुरे हाल में मिले थे। हज़रत गंज पुलिस की मदद से उनको बलराम पुर हॉस्पीटल में एडमिट किये गए । उनके जेरे इलाज गौरव को पता पता चला की वो चुर्क बाजार राबर्टस गंज के रहने वाले हैं । 12 को उनकी मौत हो गयी। अब तक यह पता था की उनका नाम अमर जीत दास था धर्म से मसीही थे । सो उस हिसाब से उनकी अंतिम यात्रा पूरी होनी थी। गौरव ने मुंझे फोन किया। अमर जीत दास का पोस्टपार्टम होना था। उनके वारिसों को खोजना था..उधर लखनऊ क्रिश्चयन बरियल बोर्ड के सचिव श्री #jagdeepjoseph से राब्ता कायम किया तो उन्हें अमर जीत दास के फयूनरल के लिए हर्स कॉफिन बॉक्स कब्र की खुदवाई सब की ज़िम्मेदारी ले ली,और सब फ्री कर दिया। 13 तारीख बीत रही थी वज़ीरगंज और चौक पुलिस भी इस मामले में सहयोग दे रही थी। इस बीच गौरव चुर्क बाजार राबर्टस गंज के गौरी शंकर तक भृमण यंत्र के जरिये संवाद स्थापित कर चुके थे । गौरी शंकर की मदद से गौरव अमर जीत दास के एक भाई तक पहुंचे। एक भाई ने कहा वो नहीं आ सकते लखनऊ। दूसरे भाई जरेन्द्र जीत दास अपनी पत्नी सुशीला दास के साथ सोनभद्र से 13 को चले। 14 को लखनऊ के बलरामपुर हॉस्पीटल की मार्चरी पहुँच कर अपने छोटे भाई के शव की शिनाख्त की । जरेन्द्र जीत दास वजीरगंज पुलिस के जरिये मुझ तक पहुंचे। मार्चरी से अमर जीत दास का शव पोस्टमार्टम हॉउस पहुँचाया गया। यहाँ Waseem Ansari Ansari रजत गुप्ता व पोस्टमार्टम हॉउस के कर्मचारी दीपक राहुल ने सहयोग दिया। पोस्टमार्टम के बाद जरेन्द्र जीत दास को शव सुपुर्दगी में दिया। उधर लखनऊ क्रिश्चयन बरियल बोर्ड की हर्स मौजूद थी। हलकी बूंदाबांदी के बीच बेच अमर जीत दास को सुपुर्दे ख़ाक किया गया। अंतिम रस्म पूरी करवाई थी,पास्टर अदीब वॉल्टर ने। स्वर्गीय०अमर जीत दास 10 साल पहले अपने परिवार से अलग हो गए थे। पिछले कई सालों से वो लखनऊ में रह रहे थे। कृत्य:नायाब टाइम्स


Popular posts
जोहा ने पास किया: *जोहा ने स्टेंडर्ड मैथ लेकर 92.1% मार्क्स हाईस्कूल में लाई* फतेहपुर, जानेमाने वरिष्ठ पत्रकार शकील अहमद सिद्दीकी की दुलारी बेटी जो महर्षि विद्या मंदिर फतेहपुर की छात्रा जोहा सिद्दीकी ने हाईस्कूल मे स्टेंडर्ड मैथ लेकर 92.1% मार्क्स प्राप्त कर सिद्दीकी परिवार का नाम रोशन कर गौरव बढ़ाया। इष्ट मित्रों ने दी जोहा सिद्दीकी को हार्दिक शुभकामनाएं व मुबारकबाद। कृत्य:नायाब टाइम्स
Image
Upsrtc.: *उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के मुख्य महाप्रबंधक (प्रशासनिक) 'वरिष्ठ पी.सी.एस' श्री विजय नारायण पाण्डेय 31 मई को होंगे रिटायर* लखनऊ। उ.प्र. परिवहन निगम के मुख्य महाप्रबंधक (प्रशासनिक) विजय नारायण पांडेय (वरिष्ठ पी.सी.एस.) ने दिनाँक 20 दिसम्बर 2018 को इस पद का पदभार संभाला था और वो 5 महीना 11 दिन की सेवा करने के बाद 31 मई 2019 को विभाग को अच्छी अनुभवी जानकारियां देते हुए अपने पद से रिटायर हो जाएंगे। उनके परिवहन निगम के कार्य कलाप की सभी अधिकारियों ने सराहना की। श्री पांडेय का मत है कि अधिकारी को विभाग के हित में ही काम करना चाहिए। उन्होंने कहा हमारे बास श्री संजीव सरन वरिष्ठ आई.ए.एस., चेयरमैन, श्री धीरज शाहू वरिष्ठ,आई.ए.एस. ट्रांसपोर्ट कमिश्नर, प्रबंध निदेशक राधे श्याम आई.ए.एस. अपर प्रबंध निदेशक से भी हमको कुछ नई जानकारियां मिली जो एक नसीहत ही है। परिवहन निगम के आशुतोष गौड़ स्टाफ ऑफिसर, पर्सनल असिस्टेंट प्रबंध निदेशक व अनवर अंजार (जनसंपर्क अधिकारी, परिवहन निगम) ने भी अपने अधिकारी श्री वी. एन. पाण्डेय की प्रशंसा करते हुए बताया कि पाण्डेय जी के साथ काम करना एक नायाब अनुभव के बराबर है। अब शायद ही ऐसा अधिकारी हमारे बीच आये। - नायाब अली
Image
डागामर वाहनों को : *जॉइंट चेकिंग ने सीट क्षमता से अधिक यात्री ढो रही डग्गामार वाहन को पकड़कर की कार्यवाही,मचा हड़कंप* लखनऊ, शासन प्रशासन द्वारा सभी प्रकार के वाहनों में सीट क्षमता से अधिक यात्रियों को कोरोना काल मे मना किया है,इसके बाबजूद भी डग्गामार वाहन दिल खोलकर क्षमता से अधिक यात्री भरकर रोड पर फर्राटा भर रही है।आज दिनांक 20 अगस्त को एआरटीओ सिद्धार्थ यादव,पीटीओ आशुतोष उपाध्याय और एआरएम चारबाग अमरनाथ सहाय ने लखनऊ पीजीआई थाना के सामने डग्गामार वाहनों की छापेमारी करते हुए प्राइवेट बस नम्बर यू०पी०51-ए०टी० 2232 जो बिहार से दिल्ली जा रही 42 सीटर डग्गामार बस जिसमें 107 यात्री सवार थे को पकड़कर सीज कर दिया। और यात्रियों को चारबाग डिपो की बसों में ट्रांसफर कर आलमबाग बस स्टेशन पर भेज दिया। इस बस के पकड़े जाने के बाद डग्गामार वाहनों के संचालकों में हाहाकार मच गया। कृत्य:नायाब टाइम्स *अस्लामु अलैकुम/शुभरात्रि*
Image
मास्क वितरण: *रोडवेज के एमडी राजशेखर जी ने प्रख्यात सभी अखबार के मीडिया स्टाफ कर्मियों को उनके ऑफिस जाकर वितरित किये मास्क* लखनऊ,"शहरे अवध लखनऊ" उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के सुपरमैन डॉ० राजशेखर "प्रबंध निदेशक" ने नव भारत टाइम्स,टाइम्स ऑफ इंडिया,हिंदुस्तान 'अंग्रेज़ी' हिंदुस्तान,दैनिक जागरण,अमर उजाला,स्वतंत्र भारत एवं सभी हिंदी अंग्रेजी अखबारो के स्टाफ कर्मियों व मुख्य डिस्टिब्यूटर और हाकर्स को एक एक 1000 मास्क वितरित किये। यह मास्क अखबारों को घर-घर पहुचाने वालों से लेकर संपादक,डिस्टिब्यूटर तक के कर्मियों को दिया। *कृत्य:नायाब टाइम्स*
Image
मृत्यु लोक पे नायाब बनकर रहो: *मृत्यु लोक पे नायाब बनाकर वरना सिकन्दर भी....!* रायबरेली,काबिले तारीफ़ है डॉ०आर०बी०वर्मा "वरिष्ठ शल्यक" *राज नर्सिंगहोम* सी०-201,आवास विकास कॉलोनी, इंदिरानगर रायबरेली व डॉ०मुम्मताज अहमद हमारे 45 वर्ष पुराने दोस्तों में से एक है। शहर मे नाम के साथ अच्छी पहचाना उनके अनुभवो के साथ उपचार करने के कारण मरीज़ो के बीच है । एक मुलाकात के दौरान उन्होंने कहा ज़िन्दगी हो तो नायाब जैसी वरना मृत्युलोक में सिकन्दर भी था। कृत्य:नायाब टाइम्स
Image