मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा: *कोरोना से बचाव के संदेश के साथ ही परिवार नियोजन के महत्व के संदेश को घर-घर तक पहुंचाएंगे: सीएमओ 1 से 31 अक्टूबर तक दो गज की दूरी-मास्क और परिवार नियोजन है जरूरी अभियान* रायबरेली,"सू०वि०रा०" आज दिनाँक- 30 सितम्बर, 2020 को मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 वीरेन्द्र सिंह ने कोविड-19 कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत रखते हुए स्वास्थ्य के सभी कार्यक्रम प्रभावित है जिनमें से परिवार नियोजन कार्यक्रम भी एक है। प्रारम्भ लगे लाॅकडाउन के कारण शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में इच्छुक दंपतिओं तक परिवार नियोजन के साधन अनेक कारणों की वजह से पहुच नही पाए जिससे आगे आने वाले कुछ महीनों की तुलना में प्रसव और अवांछित गर्भपात की संख्या में बहुत ज्यादें वृद्धि होने वाली है। जनपद में आईयूसीडी एवं पीपीआईयूसीडी मे सुधार है लेकिन अंतरा मे विगत वर्ष की तुलना मे बहुत कम उपलब्धि है इसका अर्थ यही हुआ कि लोगों को परिवार नियोजन के साधन समय से मिल नहीं पाये या लोग साधन ले नहीं पाये जिसके फलस्वरूप देश/प्रदेश आगे आने वाले समय मे जनसंख्या वृद्धि कि भी गंभीर समस्या का सामना करेगा और मातृ एवं शिशु मृत्यु दर मे भी वृद्धि होने की संभावना है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 वीरेन्द्र सिंह ने बताया है कि शासन के निर्देशानुसार सभी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रो पर परिवार नियोजन की सेवाए पुनः प्रारम्भ कर दी गई है लेकिन अभी भी और प्रयास करने की आवश्यकता है। इसी को ध्यान मे रखते हुए जिले मे 1 से 31 अक्टूबर तक दो गज की दूरी-मास्क और परिवार नियोजन है जरूरी अभियान चलाये जाने का निर्णय किया गया है। इस अभियान का उद्देश्य कोविड-19 से बचाव के संदेश के साथ साथ परिवार नियोजन के महत्व के संदेश को घर घर आशा कार्यकर्ताओ के माध्यम से देना है। इस पूरे माह के दौरान आशा कार्यकर्ता अपने कार्यस्थल के हर लक्ष्य दंपति के घर गृह भ्रमण के दौरान जाएगी और उनको परिवार नियोजन के लाभ बताते हुए कोई न कोई साधन लेने के लिए प्रेरित करेगी। हर आशा को यह लक्ष्य दिया गया है की वह कम से कम तीन लक्ष्य दंपतियों को कोई न कोई अंतराल विधि का साधन जैसे आईयूसीडी, अंतरा या पीपीआईयूसीडी की सेवा अवश्य ही दिलवाएगी। 1000 की जनसंख्या पर कम से कम 160-170 लक्ष्य दंपति होते हैं इसलिए यह लक्ष्य प्राप्त करना अत्यंत ही आसान है। उन्होंने 25 सितम्बर 2020 तक के एचएमआईएस के आकड़े के आधार पर जानकारी देते हुए बताया है कि जनपद में पुरूष नसबंदी विगत वित्तीय वर्ष 19-20 में 16 इस वित्तीय वर्ष 2020-21 में शून्य है। इसी प्रकार महिला नसबंदी वर्ष 19-20 में 511 तथा वर्ष 20-21 में 55, आईयूसीडी वर्ष 19-20 में 1768 वर्ष 20-21 में 2310, पीपीआईयूसीडी वर्ष 19-20 में 1279 वर्ष 20-21 में 1625, अंतरा त्रैमासिक इंजेकसन वर्ष 19-20 में 2505 वर्ष 20-21 699 है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 वीरेंद्र सिंह ने बताया कि यह अभियान जिले का एक अभिनव प्रयास है जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि हर आशा यदि अपना योगदान करती है तो विभाग सभी लक्ष्य दंपतियों को परिवार नियोजन की गुणवत्तापूर्ण सेवा दिलवा सकते है। वर्तमान में जिले मे लगभग 2577 आशा कार्य कर रही है और इस अभियान के माध्यम से हम कुल 7731 लक्ष्य दंपतियों को सेवा दिलवाएँगे। हम सभी मिल कर इस अभियान को सफल बनाएँगे और कोरोना से बचाव के संदेश के साथ ही साथ परिवार नियोजन के महत्व के संदेश को जिले के हर घर तक पहुंचाएंगे। कृत्य:नायाब टाइम्स


Popular posts
जोहा ने पास किया: *जोहा ने स्टेंडर्ड मैथ लेकर 92.1% मार्क्स हाईस्कूल में लाई* फतेहपुर, जानेमाने वरिष्ठ पत्रकार शकील अहमद सिद्दीकी की दुलारी बेटी जो महर्षि विद्या मंदिर फतेहपुर की छात्रा जोहा सिद्दीकी ने हाईस्कूल मे स्टेंडर्ड मैथ लेकर 92.1% मार्क्स प्राप्त कर सिद्दीकी परिवार का नाम रोशन कर गौरव बढ़ाया। इष्ट मित्रों ने दी जोहा सिद्दीकी को हार्दिक शुभकामनाएं व मुबारकबाद। कृत्य:नायाब टाइम्स
Image
Upsrtc.: *उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के मुख्य महाप्रबंधक (प्रशासनिक) 'वरिष्ठ पी.सी.एस' श्री विजय नारायण पाण्डेय 31 मई को होंगे रिटायर* लखनऊ। उ.प्र. परिवहन निगम के मुख्य महाप्रबंधक (प्रशासनिक) विजय नारायण पांडेय (वरिष्ठ पी.सी.एस.) ने दिनाँक 20 दिसम्बर 2018 को इस पद का पदभार संभाला था और वो 5 महीना 11 दिन की सेवा करने के बाद 31 मई 2019 को विभाग को अच्छी अनुभवी जानकारियां देते हुए अपने पद से रिटायर हो जाएंगे। उनके परिवहन निगम के कार्य कलाप की सभी अधिकारियों ने सराहना की। श्री पांडेय का मत है कि अधिकारी को विभाग के हित में ही काम करना चाहिए। उन्होंने कहा हमारे बास श्री संजीव सरन वरिष्ठ आई.ए.एस., चेयरमैन, श्री धीरज शाहू वरिष्ठ,आई.ए.एस. ट्रांसपोर्ट कमिश्नर, प्रबंध निदेशक राधे श्याम आई.ए.एस. अपर प्रबंध निदेशक से भी हमको कुछ नई जानकारियां मिली जो एक नसीहत ही है। परिवहन निगम के आशुतोष गौड़ स्टाफ ऑफिसर, पर्सनल असिस्टेंट प्रबंध निदेशक व अनवर अंजार (जनसंपर्क अधिकारी, परिवहन निगम) ने भी अपने अधिकारी श्री वी. एन. पाण्डेय की प्रशंसा करते हुए बताया कि पाण्डेय जी के साथ काम करना एक नायाब अनुभव के बराबर है। अब शायद ही ऐसा अधिकारी हमारे बीच आये। - नायाब अली
Image
डागामर वाहनों को : *जॉइंट चेकिंग ने सीट क्षमता से अधिक यात्री ढो रही डग्गामार वाहन को पकड़कर की कार्यवाही,मचा हड़कंप* लखनऊ, शासन प्रशासन द्वारा सभी प्रकार के वाहनों में सीट क्षमता से अधिक यात्रियों को कोरोना काल मे मना किया है,इसके बाबजूद भी डग्गामार वाहन दिल खोलकर क्षमता से अधिक यात्री भरकर रोड पर फर्राटा भर रही है।आज दिनांक 20 अगस्त को एआरटीओ सिद्धार्थ यादव,पीटीओ आशुतोष उपाध्याय और एआरएम चारबाग अमरनाथ सहाय ने लखनऊ पीजीआई थाना के सामने डग्गामार वाहनों की छापेमारी करते हुए प्राइवेट बस नम्बर यू०पी०51-ए०टी० 2232 जो बिहार से दिल्ली जा रही 42 सीटर डग्गामार बस जिसमें 107 यात्री सवार थे को पकड़कर सीज कर दिया। और यात्रियों को चारबाग डिपो की बसों में ट्रांसफर कर आलमबाग बस स्टेशन पर भेज दिया। इस बस के पकड़े जाने के बाद डग्गामार वाहनों के संचालकों में हाहाकार मच गया। कृत्य:नायाब टाइम्स *अस्लामु अलैकुम/शुभरात्रि*
Image
मास्क वितरण: *रोडवेज के एमडी राजशेखर जी ने प्रख्यात सभी अखबार के मीडिया स्टाफ कर्मियों को उनके ऑफिस जाकर वितरित किये मास्क* लखनऊ,"शहरे अवध लखनऊ" उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के सुपरमैन डॉ० राजशेखर "प्रबंध निदेशक" ने नव भारत टाइम्स,टाइम्स ऑफ इंडिया,हिंदुस्तान 'अंग्रेज़ी' हिंदुस्तान,दैनिक जागरण,अमर उजाला,स्वतंत्र भारत एवं सभी हिंदी अंग्रेजी अखबारो के स्टाफ कर्मियों व मुख्य डिस्टिब्यूटर और हाकर्स को एक एक 1000 मास्क वितरित किये। यह मास्क अखबारों को घर-घर पहुचाने वालों से लेकर संपादक,डिस्टिब्यूटर तक के कर्मियों को दिया। *कृत्य:नायाब टाइम्स*
Image
मृत्यु लोक पे नायाब बनकर रहो: *मृत्यु लोक पे नायाब बनाकर वरना सिकन्दर भी....!* रायबरेली,काबिले तारीफ़ है डॉ०आर०बी०वर्मा "वरिष्ठ शल्यक" *राज नर्सिंगहोम* सी०-201,आवास विकास कॉलोनी, इंदिरानगर रायबरेली व डॉ०मुम्मताज अहमद हमारे 45 वर्ष पुराने दोस्तों में से एक है। शहर मे नाम के साथ अच्छी पहचाना उनके अनुभवो के साथ उपचार करने के कारण मरीज़ो के बीच है । एक मुलाकात के दौरान उन्होंने कहा ज़िन्दगी हो तो नायाब जैसी वरना मृत्युलोक में सिकन्दर भी था। कृत्य:नायाब टाइम्स
Image