जिला अधिकारी ने दी दीपावली पर्व की बधाई: *दीपावली हर्षोल्लास एवं आपसी एकता का पर्व: डीएम दीपावली ध्वनि, वायु प्रदूषण के लिए आतिशबाजी का प्रयोग न करे, गोमय व मिट्टी के दीया मूर्तियों का करे प्रयोग:-डीएम-एसपी-अपने धन को पटाखे रूपी धुंए में न उड़ाये, साथ ही शान्ति, सौहार्द, भाईचारा व परस्पर एक दूसरे की भावनाओ को देखते हुए मनाये पर्व - डीएम-एसपी ने दीपावली पर्व पर दी हार्दिक बधाई* रायबरेली:"सू०वी०रा०" द्वारा दिनाँक 13 नवम्बर, 2020 को अवगत कराया है कि जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने कहा कि दीपावली का पर्व प्रकाश के साथ ही प्रेम, स्नेह, भाईचारा, शान्ति, सौहार्द, राष्ट्रीय एकता, अखण्डता को मजबूती प्रदान करने वाला पर्व है। प्रदेश व जनपद की फिजा में अमन चैन, समाज में समृद्धि तभी संभव है जब सभी लोग मिल जुलकर रहे तथा सकारात्मक विकासपरक कार्य करे। उन्होने सभी उपजिलाधिकारियों व क्षेत्राधिकारी को निर्देश दिए है कि कोविड-19 कोरोना संक्रमण व नियमों को अनुपालन कराते हुए अपने क्षेत्र का संयुक्त रूप से भ्रमण करते रहे तथा असामाजिक तत्वो को चिन्हित कर कड़ी कार्यवाही करे। उन्होने कहा कि बाजार व भीड़ वाली जगहो पर भी विशेष सतर्कता बरती जाए। दीपावली के पर्व पर जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार, मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल ने हार्दिक बधाई देते हुए कहा है कि दीपावली हर्षोल्लास एवं आपसी एकता का पर्व है इसे पर्यावरण सुरक्षित रखने के उद्देश्य से शान्ति व स्नेह के साथ मनाये। वातावरण की शुद्धता हेतु पटाखों का प्रयोग न किया जाये। अपने धन को पटाखे रूपी धुंए में न उड़ाये। साथ ही शान्ति, सौहार्द, भाईचारा व परस्पर एक दूसरे की भावनाओ को देखते हुए पर्व मनाये। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने दीपावली पर्व के मौके पर लोगो से अपील की है कि पटाखो से बच्चो बुजुर्गो आदि सभी को दूर रखा जाये। राकेट आदि तेज आवाज वाले पटाखे, आतिशबाजी का प्रयोग न करें। निर्धारित केवल रोशनी वाले तथा बिना आवाज वाली आतिशबाजी का प्रयोग किया जाये तथा पानी से भरी हुई बाल्टी अवश्य रखे। ध्वनि, वायु प्रदूषण के लिए आतिशबाजी का प्रयोग न करे। प्रकाश पर्व दीपावली आपसी भाईचारे, मेलजोल से अपने-अपने घरों पर ही मनाना हितकर होगा। जिलाधिकारी ने कहा कि दीपावली के अवसर पर जिले के ग्रामीण एवं दूर-दराज के अंचलों से मिट्टी व गोमय (गोबर) के दीपक (दीया), मूर्तियां आदि तैयार कर ग्रामीणों द्वारा विक्रय हेतु बाजार में लाया जाता है। गोबर व मिट्टी के दिये, मूर्तियों का विक्रय किये जाने में ग्रामीणों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो इसे पूर्ण रूप से ध्यान रखा जाये तथा आम आदमी अधिक से अधिक मिट्टी व गोबर के दीया व मूर्तियां पर्वो आदि के लिए खरीदे। जनपद के सभी नगरीय निकाय एवं ग्राम पंचायतों के क्षेत्र मिट्टी व गोबर के दीया व मूर्तियां बेचने वालों व ब्रिकी करने वालों से किसी भी प्रकार की वसूली न की जाये। इसके अलावा मिट्टी व गोबर के दीया, मूर्तियां को अधिक से अधिक उपयोग को प्रोत्साहित किया जाये। जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने दीपावली के अवसर पर पटाखों आदि के प्रयोग से होने वाले वायु एंव ध्वनि प्रदूषण की रोकथाम हेतु अतिशबाजी (फायर क्रैकर्स) के बिक्री प्रयोग के सम्बन्ध में शासनादेश व शासन द्वारा जारी निर्देशों के अनुपालन में जनपद में दीपावली पर्व पर कोविड-19 के दृष्टिगत नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करते हुए प्रतिबन्धों के साथ दीपावली पर्व पर पटाखों के प्रयोग व बिक्री की अनुमति प्रदान की गई है जिसमें दीपावली पर्व के दौरान कम वायु प्रदूषण/ब्रान्डेड ग्रीन पटाखों का ही प्रयोग किया जायेगा। अर्थात धुंआ रहित एंव कम ध्वनि के पटाखें ही बेंचे व छोंडे जायेगें। सीरीज युक्त पटाखों/लडियों एंव सभी प्रकार के मल्टीक्रैकर्स (फैन्सी) की बिक्री व प्रयोग वर्जित रहेगा। पटाखों का प्रयोग दीपावली एंव गुरु पर्व पर रात्रि 08 से 10 बजे, छठ पर्व पर सुबह 06 बजे से 08 बजे तक एंव क्रिसमस और नववर्ष की पूर्व संध्या पर रात्रि 11ः55 से 12ः30 बजे तक ही किया जायेगा। पटाखों का बिक्री लाइसेंसधारी विक्रेता द्वारा ही किया जायेगा। पटाखों के फटने के स्थान से 04 मीटर की दूरी पर 125 डी0बी0(ए0आई0) से अधिक ध्वनि तीव्रता उत्पन्न करने वाले पटाखों का विक्रय निषेध रहेगा अर्थात तेज आवाज वाले पटाखों का विक्रय निषेध रहेगा। शान्त क्षेत्र में किसी भी समय पटाखे नही छोडे जायेंगें। शान्त क्षेत्र अस्पताल, शैक्षिक क्षेत्र, न्यायालय क्षेत्र से 100 मीटर की परिधि का क्षेत्रफल होगा। दीपावली पर्व मनाये जाने हेतु डिजिटल/लेजर आदि की नई तकनीकी का प्रयोग किया जा सकता है। इस मौके पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन राम अभिलाष, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व प्रेम प्रकाश उपाध्याय, सहायक निदेशक सूचना प्रमोद कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 वीरेन्द्र सिंह आदि ने भी जनपद वासियों को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं दी है। दीपावली पर्व की हार्दिक बधाई व शुभकामनाए जनपद के मान्यता प्राप्त व वरिष्ठ पत्रकार इलेक्ट्रानिक्स मीडिया, अशोक शर्मा, रसिक श्याम शरण द्विवेदी, राधेश्याम लाल कर्ण, गौरव अवस्थी, अनिल मिश्रा, प्रेम नारायण द्विवेदी, ओम प्रकाश मिश्र, हिमाशु श्रीवास्तव, सुनीता साहू, पूनम यादव, सारिका शुक्ला, नीलम, याकूब खान, सय्यद आलमदार नकवी, संजय मौर्या, संजय सिंह, संजन सिंह, सुधीर त्रिपाठी, डा0 पंकज सिंह, सुधीर मिश्रा, जय नारायण मिश्रा, अशीष दयाल राय, आनन्द कर्ण, श्रवण कुमार, चन्द्रसेन भारती, अनुज अवस्थी, महेश त्रिवेदी, अजीत सिंह, अनुपम दीक्षित, राजेश मिश्रा, अकाश आनन्द, देवेन्द्र कुमार श्रीवास्तव, वीरेन्द्र शुक्ला, सुधीर त्रिवेदी, शिव मनोहर पाण्डेय, आराधना, नरेन्द्र कुमार पाण्डेय, अपर्णा स्वाती बाजपेयी, विमलेश कुमार यादव, रोहित मिश्रा, मोहन कृष्ण, नरेन्द्र, शैलेन्द्र प्रताप सिंह, राजपाल सिंह, अनुभव स्वरूप यादव, फैज अब्बास, असद उल्ला खां, प्रशान्त त्रिपाठी, केशवानन्द शुक्ला, माधव सिंह, आलोक पाण्डेय, मनद सिंह परिहार, संदीप कुमार आदि ने भी दीपावली पर्व की हार्दिक बधाई दी है। कृत्य:नायाब टाइम्स *अस्लामु अलैकुम/शुभरात्रि*


Popular posts
Schi baat:*खरी बात * संस्कारी औरत का शरीर केवल उसका पति ही देख सकता है। लेकिन कुछ कुल्टा व चरित्रहीन औरतें अपने शरीर की नुमाइश दुनियां के सामने करती फिरती हैं। समझदार को इशारा ही काफी है। इस पर भी नारीवादी पुरुष और नारी दोनों, कहते हैं, कि यह पहनने वाले की मर्जी है कि वो क्या पहने। बिल्कुल सही, अगर आप सहमत हैं, तो अपने घर की औरतों को, ऐसे ही पहनावा पहनने की सलाह दें। हम तो चुप ही रहेंगे।
Image
पराली न जलाए: *पराली और कृषि अपशिष्ट आदि सहित फसलों के ठंडल भी न जलाये अन्यथा होगी दण्डात्मक कार्यवाही:वैभव श्रीवास्तव* रायबरेली,जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने मा0 राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण द्वारा फसल अवशेष/पराली जलाने को दण्डनीय अपराध घोषित करने की सूचना के बाद भी जनपद के कुछ किसानों द्वारा पराली जलाने की अप्रिय घटनाए घटित की जा रही है, जिसके क्रम में उत्तर प्रदेश शासन के साथ ही मा0 उच्चतम न्यायालय एवं मा0 हरित न्यायालयकरण (एन0जी0टी0) द्वारा कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये है, जनपद के समस्त कृषकों एवं जनपदवासी पराली (फसल अवशेष) या किसी भी तरह का कूड़ा, जलाने की घटनाये ग्रामीण एंव नगरी क्षेत्र घटित होती है तो ऐसे व्यक्तियों के विरूद्ध आर्थिक दण्ड एवं विधिक कार्यवाही के साथ ही उनकों देय समस्त शासकीय सुविधाओं एवं अनुदान समाप्त करते हुए यदि वे किसी विशेष लाइसेंस (निबन्धन) के धारक है तो उसे भी समाप्त किया जायेगा और ग्राम पंचायत निर्वाचन हेतु अदेय प्रमाण पत्र भी नही दिया जायेगा। इसके साथ ही घटित घटनाओं से सम्बन्धित ग्राम प्रधान, राजस्वकर्मी, लेखपाल, ग्राम पंचायत अधिकारी एवं ग्राम विकास अधिकारी तथा कृषि विभाग के कर्मचारी एवं पुलिस विभाग से सम्बन्धित हल्का प्रभारी के विरूद्ध कठोर दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। मा0 राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण द्वारा पारित आदेश में कृषि अपशिष्ट को जलाये जाने वाले व्यक्ति के विरूद्ध नियमानुसार अर्थदण्ड अधिरोपित किये जाने के निर्देश है। राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण द्वारा राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण अधिनियम की धारा-15 के अन्तर्गत पारित उक्त आदेशों का अनुपालन अत्यन्त आवश्यक है अन्यथा इसी अधिनियम की धारा 24 के अन्तर्गत आरोपित क्षतिपूर्ति की वसूली और धारा-26 के अन्तर्गत उल्लघंन की पुनरावित्त होने पर करावास एवं अर्थदण्ड आरोपित किया जाना प्राविधनित है एवं एक्ट संख्या 14/1981 की धारा 19 के अन्तर्गत अभियोजन की कार्यवाही कर नियमानुसार कारावास या अर्थदण्ड या दोनों से दण्डित कराया जायेगा। उक्त आदेश के अनुपालन में लेखपाल द्वारा क्षतिपूर्ति की वसूली की धनराशि सम्ब.न्धित से भू-राजस्व के बकाया की भांति की जायेगी। ग्राम सभा की बैठक में पराली प्रबन्धन एवं पराली एवं कृषि अपशिष्ट जैसे गन्ने की पत्ती/गन्ना, जलाने पर लगने वाले अर्थदण्ड एवं विधिक कार्यवाही के बारे में बताया कि कोई भी व्यक्ति कृषि अपशिष्ट को नही जलायेगा तथा कृषि अपशिष्ट जलाने पर तत्काल सम्बन्धित थाने पर सूचना दी जायेगी एवं आर्थिक दण्ड विधिक कार्यवाही करायी जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा है कि किसान पराली व कृषि अपशिष्ट जैसे गन्ने की सूखी पत्ती या फसलों के डंठल इत्यादि न जलायें। पराली और कृषि अपशिष्ट न जलाने पर तहसील व विकास खण्ड, ग्राम स्तरों पर जागरूकता कार्यक्रम चलाकर आम आदमी को जागरूक भी किया जाये। उन्होंने कहा कि पराली जलाने पर पूरी तरह से शासन द्वारा पाबंदी लगाई गई है। शासन के निर्देशानुसार जनपद में पराली जाने पर कड़ी से अनुपालन भी कराया जा रहा है। कृत्य:नायाब टाइम्स *अस्लामु अलैकुम/शुभरात्रि*
Image
एल-1 अस्पताल का निरीक्षण: *एल-1 चिकित्सालय का निरीक्षण करते हुए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव कोविड एल-1 चिकित्सालय का किया गया निरीक्षण* रायबरेली,आज दिनाँक-18 सितम्बर, 2020 मा0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार व जिला एवं सत्र न्यायाधीश अब्दुल शाहिद की अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण रायबरेली के दिशा-निर्देशन में पूर्वाहन 11ः30 बजे रेयान इण्टरनेशनल स्कूल को एल1 क्षेणी के अस्पताल के रूप में स्थापित किया गया है एल 1 में रखे गये कोरोना के मरीजों की उचित देख-रेख के सम्बन्ध में मयंक जायसवाल सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 वीरेन्द्र सिंह की देख-रेख में हुई। एल 1 हास्पिटल में वर्तमान में कुल 133 मरीज है। महिलाये 25 पुरुष 101 व 15 वर्ष से कम उम्र के 7 बच्चे है जिनका उपचार चल रहा है। सचिव द्वारा वहां दिये जाने वाले खाने के पैकेट को खोलकर उसमें दिये हुए खाने की गुणवत्ता का परीक्षण किया गया। निरीक्षण के समय मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 वीरेन्द्र सिंह व प्रभारी डा0 आनन्द गुप्ता पुरुष पराविधिक स्वयं सेवक पवन श्रीवास्तव द्वारा पुरुषों से व पराविधिक स्वयं सेविका अमिता गुप्ता द्वारा उपस्थित महिलाओं व बच्चों से उनकी समस्याओं के सम्बन्ध में पूछताछ की गयी। वहाँ उपस्थित महिला मरीज रानी पुत्री दुर्गा प्रसाद, पंकज यादव पुत्र शिवकरन यादव, शिल्पी रानी, आशीष अवस्थी ने बताया कि खाना, नाश्ता सही समय पर सही मिल रहा है। अस्पताल में साफ-सफाई की व्यवस्था सही मिली। मरीज मनीष अवस्थी द्वारा बताया गया कि नीचे की दो शौचालय चोक है जिसे साफ करवाने का आश्वासन प्रभारी अधिकारी द्वारा दिया गया। मरीजों की विधिक सहायता पैनल अधिवक्ता जय सिंह यादव उपस्थित रहे। मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया गया कि मरीजों की देख-रेख हेतु उचित कदम उठाये व उनकी किसी समस्या का त्वरित निस्तारण करे। कृत्य:नायाब टाइम्स
Image
X.PM.: कुछ लोग ज़मीन पर राज करते हैं और कु्छ लोग दिलों पर. मरहूम राजीव गांधी एक ऐसी शख़्सियत थे, जिन्होंने ज़मीन पर ही नहीं, बल्कि दिलों पर भी हुकूमत की. वह भले ही आज इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन हमारे दिलों में आज भी ज़िंदा हैं और हमेशा ज़िन्दा रहेंगे... 🙏🏻🌹🙏🏻 स्वर्गीय राजीव गांधी को भावभीनी श्रद्धांजली...💐
Image
ग़ालिब की याद :*अंजुमन तर्कक्की उर्दू * लखनऊ। अंजुमन तरक्की उर्दू की जानिब आज अमीनाबाद हाजी नियामत उल्ला बिल्डिंग में आम और ग़ालिब पर एक नशिस्त हुई।जिसकी सदारत चौधरी शरफुद्दीन साहब व निज़ामत महमूद ज़फ़र रहमानी साहब ने किया।इस नशिस्त में शहर व बाहर से लोग भी शामिल हुये।जिनमे सीनियर एडवोकेट जफरयाब जीलानी,शारिब रूदौलवी,डॉक्टर सुल्तान शाकिर हाशमी व शहर की कई समाजिक लोग शामिल हुये। इस नशिस्त में लोगो ने उर्दू ज़ुबान को बढ़ावा देने पर ज़ोर दिया गया।उर्दू ज़ुबान मीठी ज़ुबान है लोगो को जोड़ती भी,लोगो से उर्दू अखबार खुद को पढ़ने के साथ लोगो को भो पढ़ने के लिये कहे,बाद आम व ग़ालिब पर लोगो ने शेर पढ़े।
Image